अभिव्यक्ति / Expression

आपने बहुत सारी कहानियां ,कवितायेँ पढ़ी होंगी | उनसे प्रभावित भी हुए होंगे | आये दिन देश –विदेश के समाचारों से आपका मन भी आंदोलित होता होगा | अपने शहर , गाँव , मुहल्ले और समाज की समस्याओं से आहत भी हुए होंगे | जिन बातों से आपका मन प्रभावित होता है , जो समस्याएँ आपको बेचैन करती हैं ; इन बातों को आप अगर किसी के साथ साझा ( शेयर ) करते हैं तो आपका मन हल्का हो जाता है | अगर आप अपने मनोभावों का दमन करते रहेंगे तो आप मानसिक और शारीरिक तौर पर बीमार हो जायेंगे | मनोवैज्ञानिकों का मानना है कि लगभग अस्सी प्रतिशत बीमारियाँ दमित मनोभावों के कारण ही होती हैं |

अगर आपको गुस्सा आता हो तो गुस्सा शांत करने के लिए क्या करते हैं ? किसी दूसरे के ऊपर गुस्सा कर लेने पर अपना गुस्सा शांत हो जाता है | ऐसे ही अगर पहले का गुस्सा दूसरे को फिर तीसरे , चौथे …| पूरी श्रृंखला संसार में बन जाएगी |

अपने मनोभावों का दमन करने की मजबूरी से बचने का सरल उपाय है | अपने मनोभावों का दमन करने के वजाए उसकी दिशा बदल डालें और कहानियाँ लिखें |

Leave a Reply

Be the First to Comment!

avatar
  Subscribe  
Notify of